Saturday, 3 October 2015

कौन सा मतलब....

कौन सा मतलब दिल में आया
जो हमसे इतना प्यार जताया...
अमृत है, कह कह के तुमने
जाने कितनों को जहर पिलाया...
धोखों को जेब में रख चलते हो
जो भी मिला उसे एक थमाया...
मीठी जुबां, मासूम सा चेहरा
खुदा ने भी क्या जाल बनाया...
http://hottystan.blogspot.in/


No comments:

Post a Comment