Google+ Followers

Wednesday, 1 October 2014

ये दो लफ़्ज़ों की....

         ये दो लफ़्ज़ों की 
   तेरी-मेरी कहानी ,

         तू "मक्का" की धूल 
    मैं "काशी" का पानी.....

http://hottystan.mywapblog.com/