Google+ Followers

Wednesday, 18 February 2015

फूल सूखे हुए....

फूल सूखे हुए गुलदान से कब निकलेंगे...? ज़िन्दगी! हम तेरे अहसान से कब निकलेंगे...?
http://hottystan.mywapblog.com/